प्रधान मंत्री का विज़न

PM

प्रधान मंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी का सपना(विज़न) - भारत की महिलाओं को समान दर्जा देकर नये भारत के निर्माण का ह

 

 

महिलाओं के विकास से और आगे बढ़कर महिलाओं द्वारा नेतृत्‍व जैसे विकास की आवश्‍यकता ह

 

'' पंचायत से संसद तक, महिलाएं आगे बढ़ कर नेतृत्‍व कर रही हैं ''

 

''यदि हमें आधुनिक भारत का निर्माण करना है तो हमें पहले भारतीय महिलाओं का सम्‍मान करना होगा ।''

 

 

“आज की आर्थिक सामर्थ्य का जब विषय आता है, निर्णय में भागीदारी की बात आती है, जब भी महिलाओं में आर्थिक सामर्थ्य बढ़ा है; निर्णय में उनकी भागीदारी भी बढ़ी है। आप कोई भी सेक्टिर देखिए; जहां भी महिलाओं को सही अवसर मिला है, वो पुरुषों से दो कदम आगे ही निकल गई हैं।”

 

 

''प्रत्‍येक महिला में उद्यमशीलता के गुण होते हैं । महिलाएं, यदि आर्थिक रुप से स्‍वतंत्र हों तो वे निर्णय लेने में हितधारक हो सकती हैं ।''

 

 

'' और यह मां ही होती है जो सशक्‍त नागरिक बनाती है ''

 

 

''महिला सशक्‍तीकरण के बारे में इस मानसिकता को बदलने की आवश्‍यकता है । सशक्‍तीकरण उनके लिए है जो अशक्‍त हैं। जो पहले से ही सशक्‍त हैं उनके सशक्‍तीकरण का क्‍या अर्थ है ? महिलाओं को सशक्‍त बनाने वाले पुरुष कौन होते हैं? ''

 

 

''आपको अपनी शक्ति का ज्ञान तभी होगा जब आप कोई चुनौती का सामना करेंगी । इसलिए हमारी महिलाओं को स्‍वयं को सशक्‍त बनाने के लिए अवश्‍य ही चुनौतियों को स्‍वीकार करना चाहिए ।''

 

 

“परिवार क वातावरण को उत्सव में बदलें और इसलिए मैं तोह आप से कहूंगा smile more score more”

 

 

''पुरुषों की तुलना में कम अवसरों के बावजूद महिलाओं की सफलता दर अधिक है। महिलाओं को स्‍वयं अपनी शक्ति को पहचानते हुए आत्‍म-विश्‍वास का अनुभव करना होगा ।''

 

 

''नारी शक्ति के अदम्‍य साहस, निश्‍चय और समपर्ण को सलाम''